मेरे कत्ल को मीठी जुबान है काफी,.,
अजीब शख्स है, खंजर तलाश करता है,.,!!!

हमने दी है जो कभी उसको खुशी की अर्ज़ी,
पुर्जा-पुर्जा वो हवाओं में उड़ा देता है.

आईना आज फिर रिशवत लेता पकडा गया,
दिल में दर्द था ओर चेहरा हंसता हुआ पकडा गया

ख्वाब हमारे टूटे 💔 तो हालात कुछ ऐसी थी,
आँखे पल पल रोती थीं ,किस्मत हँसती रहती थी💔 😢

वो रोई तो जरूर होगी खाली कागज़ देखकर ..
ज़िन्दगी कैसी बीत रही है पूछा था उसने ख़त में .. !!

कैसे बुरा कह दूँ तेरी बेवफाई को,
यही तो है जिसने मुझे मशहूर किया है..

तेरी नाराज़गी वाजिब है दोस्त..
मैं भी खुद से खुश नहीं आजकल..

ना कर जिद अपनी हद में रह ए दिल,
वो बड़े लोग हैं अपनी मर्ज़ी से याद करते है..

उन जख्मों को भरने मे वक्त लगता है,
जिनमे शामिल हो अपनों की मेहरबानियाँ..!

#‎अपने‬ हर 😲 ‪#‎लफ्ज़‬ में 😁 ‪#‎कहर‬ ✔ ‪#‎रखता‬ हूँ, 📝 ‪#‎शायर‬ हूँ..
💔 ‪#‎बेवफा‬ का 🔪 ‪#‎क़त्ल‬ ‪#‎करने‬ के लिए 💝 ‪#‎जेब‬ में ✒ ‪#‎कलम‬ ✔ #रखता हूँ..

बेवफा कहने से पहले मेरी रग रग का खून निचोड़ लेना..
कतरे कतरे से वफ़ा ना मिले तो बेशक मुझे छोड़ देना।

Năă छेड़ किस्सा ऐ उल्फत का”
“बड़ी लम्बी कहानी है”

हम वो हैं जो आँखों में आँखें डाल के सच जान लेते हैं
तुझसे मुहब्बत है बस इसलिये तेरे झूठ भी सच मान लेते हैं…!

हुकुमत वो ही करता है जिसका दिलो पर राज हो…!!
वरना यूँ तो गली के मुर्गो के सर पे भी ताज होता है…!!

मूर्ख मनुष्य क्रोध को जोर-शोर से प्रकट करता हैं,
किंतु बुद्धिमान शांति से उसे वश में करता है ।

1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12